RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 30, 2022 2:25 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 30, 2022 2:25 AM

हरेली की बिखरी छटा, खुशियों के साथ मनाया गया हरेली पर्व

जांजगीर चाम्पा  (ट्रैक सीजी न्यूज/संवाददाता गंगा प्रसाद मल्होत्रा)- छत्तीसगढ़ का प्रथम पर्व हरेली आज जिले में बहुत ही हर्षाेल्लास के साथ पारंपरिक तौर तरीकों से मनाया गया। शहर से लेकर गांव तक हरेली पर्व की धूम रही। अकलतरा विकासखंड के ग्राम तिलई के गौठान में जिला स्तरीय हरेली महोत्सव का आयोजन भी किया गया। यहाँ छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा के साथ कृषि यंत्रों की पूजा की गई। इस दौरान गेड़ी चढ़कर, नारियल फेंककर, फुगड़ी सहित भौरा-बाटी खेलकर सभी ने हरेली का जमकर आंनद उठाया गया। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का स्टाल भी लगाया गया था। जहां चीला, चौसेला, फरा, अइरसा सहित अन्य व्यंजनों का स्वाद भी लोगों ने लिया। हरेली उत्सव के विशेष अवसर पर गौठान में अतिथियों द्वारा पौधा रोपण भी किया गया।

     जिला स्तरीय कार्यक्रम में अन्य भवन सन्निर्माण एवं कर्मकार मण्डल की सदस्य श्रीमती मंजू सिह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल लगातार प्रदेश में छत्तीसगढ़ के स्वाभिमान और अस्मिता को ध्यान में रखते हुए यहां के तीज, त्यौहारों, पर्वों को एक अलग रूप में मनाकर संस्कृति को पुनर्जीवित कर रहे हैं और नया पहचान बनाते जा रहे हैं। हरेली का आयोजन राज्य स्तर पर होने के साथ जिला स्तर पर किया जा रहा है। उनके इस प्रयास से हर छत्तीसगढ़िया अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है। उनके इय प्रयास का लाभ आने वाली पीढ़ी को मिलेगा। कृषि उपज मण्डी बोर्ड के अध्यक्ष श्री व्यास नारायण कश्यप ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार सभी वर्ग के लिए कल्याणकारी योजना संचालित कर सभी को आर्थिक रूप से सशक्त बना रही है। किसानों से लेकर गौपालकों और स्व-सहायता समूह की महिलाओं को नरवा, गरवा, घुरवा बाड़ी के माध्यम से लाभान्वित किया जा रहा है। आज हरेली के अवसर पर गौ मूत्र की खरीदी प्रारंभ की गई है। इससे गौ-पालकों के साथ किसानों को सीधे लाभ पहुचेगा। जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री राघवेन्द्र प्रताप सिहं और पूर्व विधायक श्री चुन्नीलाल साहू ने सभी को हरेली पर्व की बधाई देते हुए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा गौ-मूत्र की खरीदी प्रारंभ करने और पशुपालकों सहित किसानों को लाभान्वित किए जाने पर बधाई देते हुए कहा कि आने वाले दिनों में इसका बड़ा फायदा दिखने लगेगा। उन्होंने धान के बोनस राशि और अन्य योजनाओं के लिए सरकार की सराहना की। 

You might also like

     कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने इस अवसर पर कहा कि दो साल पहले गोबर खरीदी की शुरूआत की गई। हिन्दुस्तान में सबसे पहले छत्तीसगढ़ में गोबर खरीद कर किसानों, गौ-पालकों को लाभान्वित किया गया। जिले में तीन लाख क्विंटल गोबर की खरीदी कर लगभग 6 करोड़ रूपए किसानों और गौ-पालकों को दिए गए। एक लाख क्विंटल वर्मी की खरदी कर लगभग 10 करोड़ रूप्ए स्व सहायता समूह की महिलाओं और समितियों को प्रदान किए गए। आज से जिले में दो गौठान तिलई और खोखरा में गौ-मूत्र की खरीदी प्रारंभ की गई है। आने वाले दिनों में गौ-मूत्र भी आर्थिक स्वावलंबन का आधार बनेगा। कलेक्टर श्री सिन्हा ने आज से सभी गौठानों में असंगठित महिलाओं के ई-श्रम कार्ड बनने शिविर लगने की जानकारी देते हुए कहा कि सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ अवश्य उठाए। इससे विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति, गर्भवती महिलाओं को जचकी होने पर राशि दी जाती है। इसके अलावा किसी के आकस्मिक मृत्यु होने पर भी राशि का प्रावधान है। कलेक्टर ने कहा कि कुपोषण को लेकर मुख्यमंत्री बहुत चिंता करते हैं। वे चाहते है कि सभी सुपोषित बने। हमारे जिले से भी कुपोषण को दूर हटाना है। कुपोषित बच्चों और एनीमिक महिलाओं को स्वस्थ बनाना है। जिले में गरम भोजन देने की शुरुआत की गई है। इसका लाभ अवश्य उठाए। उन्होंने बताया कि कुल 273 गौठान जिले में सक्रिय है। हर गांव में एक गौठान हो और ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत बने, इसके लिए प्रयास किया जा रहा है। आज से 33 नए गौठानों में गोबर की खरीदी भी इसीलिए प्रारंभ की गई है। उन्होंने हरेली पर्व की सभी को बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश का सबसे अच्छा गौठान इसी जिले से बनाया जाएगा। जिला इस अवसर पर सरपंच तिलई तीजराम यादव, जनपद पंचायत सदस्य दिलेश्वर साहू, जनपद उपाध्यक्ष श्री रामगोपाल कौशिक सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, अधिकारी एवं कर्मचारी आदि उपस्थित थे। आभार ज्ञापन डॉ फरिहा आलम सिद्धकी सीईओ जिला पंचायत ने किया। मंच संचालन श्री सतीश सिंह ने किया।

गौ-पालकों से हुई गौ-मूत्र की खरीदी

 जिले में गौ-मूत्र की खरीदी की शुरूआत अकलतरा विकासखण्ड के ग्राम तिलई और नवागढ़ विकासखण्ड के ग्राम खोखरा से की गई। ग्राम तिलई में गौ-पालक किसान डिगेश्वर यादव से 20 लीटर, चंद्रशेखर यादव से 10 लीटर गौ-मूत्र की खरीदी की गई।  कलेक्टर श्री सिन्हा के हाथों पशुपालकों को 4 रूपये प्रति लीटर के मान से राशि प्रदान की गई। संग्रहित गोमूत्र का पीएच मान का परीक्षण यूरोमीटर से किया गया। यह भी बताया गया कि गोमूत्र का पीएच मान 7.5 से अधिक होने पर ही इसे खरीदा जा सकता है। संक्रामक रोगों से ग्रसित पशुओं का गोमूत्र नहीं खरीदा जाएगा। गोमूत्र में नीम, सीताफल, पपीता, करंज और अमरूद के पत्ते मिलाकर उत्कृष्ट जैविक कीट नियंत्रक (ब्रह्मास्त्र) तैयार किया जाएगा।

ई-श्रम कार्ड का किया गया वितरण

     ग्राम तिलई में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में असंगठित महिला श्रमिकों को अन्य भवन संनिर्माण कर्मकार मण्डल द्वारा ई-श्रम कार्ड का वितरण किया गया। अतिथियों द्वारा श्रीमती पिंकी बरेठ, श्रीमती कौशल्या धीवर, श्रीमती श्यामता बाई कौशिक, श्रीमती सरोज देवी साहू को ई-श्रम कार्ड का वितरण किया गया।

गेड़ी, फुगड़ी, नारियल फेंक का किया गया आयोजन

     जिला स्तरीय हरेली महोत्सव में लोगों ने गेड़ी चढ़कर, नारियल फेंककर, फुगड़ी सहित भौंरा-बाटी खेलकर आनंद लिया। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों और कलेक्टर श्री सिन्हा ने गेड़ी चढ़कर, नारियल फेंक कर हरेली पर्व को खास बनाया।

Comments 1

  1. This is the perfect blog for anybody who wants to find out about this topic. You know a whole lot its almost hard to argue with you (not that I actually would want toÖHaHa). You certainly put a fresh spin on a topic thats been written about for a long time. Excellent stuff, just wonderful!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Also Read