RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 1:25 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 1:25 AM

छत्तीसगढ़ की समृद्ध परंपरा मनाया गया हरेली तिहार – डॉ खरे

बेमेतरा ब्यूरो/पुष्पराज मराठा

नवागढ़-हरेली-तिहार छत्तीसगढ़ राज्य का पहला त्यौहार है, जो छत्तीसगढ़ की ग्रामीण कृषि संस्कृति, परंपरा एवं आस्था से जुड़ा हुआ है। लोगों में अपनी परंपरा और संस्कृति से जोड़े रखना, छत्तीसगढ़ की समृद्ध कला-संस्कृति, तीज-त्यौहार एवं परंपराओं पर गांव गांव में हर्ष का माहौल बना हुआ है।
इसी क्रम में नवागढ़ विधानसभा क्षेत्रों में भी हरेली त्यौहार पर अलग अलग अंदाज में उत्सव मनाते नजर आए,

You might also like

भाजपा नेता डॉ. जगजीवन खरे ने बताया – पारंपरिक तरीके से कृषि औजार की पूजा किया जाता है।

गुरुवार को हरेली तिहार में किसानों ने कृषि औजारों की पूजा किया । गांव व परिवार की सुरक्षा की कामना के साथ कुलदेवता और ग्राम देवताओं की पूजा भी की गई । पूरे समय नारियल फेंक समेत अन्य खेलों के जरिए परंपरा का निर्वहन किया गया ।हरेली के त्यौहार परंपरिक तौर पर बड़ी उत्साह के साथ मनाया गया। किसानों ने अपने पशुधन को लोंदी खिलाया और कृषि औजारों की साफ-सफाई कर पूजा अर्चना कर गुरहा चिला और भजिया छत्तीसगढ़िया पकवानों का भोग के रूप में अर्पित किया गया। हरेली पर्व पर बच्चों ने गेड़ी का आनंद लिया। वही गांव में परंपरिक खेलकूद फुकड़ी कबड्डी भी हुई यदुवंशियों ने किसानों के द्वार पर नीम की टहनी खोंची गई और लोहार ने पंच धातु से बनी कील ठोकी गई। युवाओं ने नारियल फेक व तोड़ने जैसी प्रेतियोगिताएं आयोजित की गई ।

भाजपा नेता डॉ , जगजीवन खरे ने कहा कि हर वर्ष की भांति इस बार एक नई सोच नई उमंग नई आशा के साथ गांवो के ग्रामीण द्वारा हरेली त्यौहार के अवसर पर हरेक परिवार को एक वृक्ष लगाकर त्यौहार को मिलजुल कर मनाने को प्रेरित किया गया है। और हरेली त्यौहार के अवसर पर ग्रामीणजन से मिलकर भाजपा नेता डॉ खरे ने हरेली तिहार कि हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Also Read