RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 30, 2022 2:54 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 30, 2022 2:54 AM

उपन्यासकार को किताब प्रकाशन के लिए सहयोग, विधायक नाग ने सौंपा चेक

अंतागढ़/ट्रैक सीजी:

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सहयोग एवं क्षेत्रीय विधायक अनूप नाग के प्रयासों से बांदे क्षेत्र के ग्राम पंचायत जनकपुर के आश्रित गांव पी.व्ही.79 निवासी संतोष कीर्तनिया जो दशकों से अपने अंदर एक उपन्यासकार को छुपाए बैठे थे उन्हें अब अपने अंदर के साहित्य प्रेम को लोगों के सामने प्रस्तुत करने का राज्य सरकार से सहयोग मिला है ।

You might also like

दरअसल कीर्तनीया जो बंगाली समुदाय से आते है उन्होंने बंगाली भाषा में ही अपने लेख क्षमता से दो दो उपन्यास लिखे है जो वर्षो से इसके प्रकाशन का सपना संजोए हुए बैठे थे सुदूर अंचल के छोटे से गांव के होने के पश्चात भी उनके साहित्य के प्रति प्रेम और रुचि कभी कम नहीं हुई और आज उनका यह अधूरा सपना साकार होने की ओर अग्रसर है ।

विधायक अनूप नाग जो स्वयं हर आयु वर्ग के लोगो को उनके प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने एवं प्रोत्साहन देने का कार्य करते है उन्ही के साथ श्री कीर्तनिया ने मुख्यमंत्री निवास में सीएम भूपेश बघेल से मिलकर अपनी बात रखी जहां सीएम ने उन्हें अपने किताब के प्रकाशन के लिए एक लाख रुपए देने की घोषणा की । जिसके पश्चात आज विधायक नाग ने स्वयं श्री कीर्तनिया को अपने विधायक कार्यालय अंतागढ़ में उनके उपन्यास के प्रकाशन के लिए 1 लाख रुपए का चेक प्रदान कर अपनी शुभकामनाएं दी ।

कीर्तनिया की जीवन की सबसे बड़े सपने को वह साकार होने की ओर अग्रसर होते देख वह भी खुशी से झूम उठे और विधायक नाग को गले लगाकर उन्हें अपनी ओर से धन्यवाद ज्ञापित किया और साथ ही विधायक के समक्ष ही उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके संसदीय सलाहकार राजेश तिवारी का भी विशेष आभार व्यक्त किया ।

•लेखक समाज के लिए प्रकाश स्तम्भचेक सौंपते विधायक नाग– विधायक नाग

विधायक नाग ने इस दौरान कहा की उपन्यासकार होना ही अपने आप में एक बड़ा सम्मान है उन्होंने कहा देश की आजादी में अलग अलग वर्ग के बहुत से लोगों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई लेकिन उपन्यासकारो, साहित्यकारों, कवियों, लेखकों, रचनाकारों व पत्रकारों ने समाज को जागरूक करने में अहम योगदान दिया । इससे देशभक्ति आंदोलन को बल मिला और राष्ट्रप्रेम व जनजागरण की भावना आई । साथ ही उन्होंने कहा की समाज के लिए प्रकाश स्तब्ध का काम करने वाले साहित्यकारों को ऐसे ही आगे शासन से सहयोग करते रहेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Also Read