RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 2:55 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 2:55 AM

सरस्वती शिशु मंदिर में रसायनयज्ञ डॉ प्रफुल्ल की 161 जयंती मनाया गया

 

सरस्वती शिशु मंदिर में रसायनयज्ञ डॉ प्रफुल्ल की 161 जयंती मनाया गया

You might also like

स्कूली छात्र -छात्राओं ने आधा सैकड़ा मॉडल बनाकर किये प्रस्तुत

 

संवाददाता गौरव चंद्राकर महासमुंद जिला ब्यूरो

पिथौरा/ स्थानीय सरस्वती शिशु मंदिर पिथौरा में 02 अगस्त को रसायनयज्ञ डॉक्टर प्रफुल्ल चन्द्र राय की 161 वीं जयंती मनाई गई कार्यक्रम के सर्वप्रथम भारत माता एवम सरस्वती मां माल्यार्पण पूजा अर्चना के साथ शुरुआत की गई इस विज्ञान मेले में विद्यालय के कक्षा 1 से 12 वीं तक के छात्र -छात्राओं ने 35 चलित एवम 15 मॉडल प्रोजेक्ट बना कर प्रस्तुत किये। मॉडल में मुख्य रूप से 6 वीं कक्षा से अपने प्रोजेक्ट में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम और 7 वीं से चलित पवन चक्की बनाया गया था वहीं 6 वीं कक्षा का प्रोजेक्ट वाटर हार्वेशटिंग सिस्टम प्रशंसनीय रहा ।
विद्यालय की दीदी प्रगति भोई एवम संजू बरिहा के द्वारा रसायन यज्ञ के बारे में प्रकाश डाला गया डॉ प्रफुल्ल चंद्र राय को जानना और समझना जरूरी है कौन है डॉ राय डॉ प्रफुल्ल चन्द्र राय 02 अगस्त 1861 — 16 जून 1944) भारत के महान रसायनज्ञ, उद्यमी तथा महान शिक्षक थे। आचार्य राय केवल आधुनिक रसायन शास्त्र के प्रथम भारतीय प्रवक्ता (प्रोफेसर) ही नहीं थे बल्कि उन्होंने ही इस देश में रसायन उद्योग की नींव भी डाली थी।

आचार्य प्रफुल्ल चन्द्र राय भारत में केवल रसायन शास्त्र ही नहीं, आधुनिक विज्ञान के भी प्रस्तोता थे। वे भारतवासियों के लिए सदैव वन्दनीय रहेंगे। उक्त आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप से प्रसिद्ध लेखक एवम साहित्यकार शिवशंकर पटनायक, सेवानिवृत प्रधान पाठक सविता डे ने अध्यक्षता की एवम क्षेत्र के प्रसिद्ध युवा वैज्ञानिक गौरव चंद्राकर, विज्ञान सभा मंच के अध्यक्ष हेमंत खूंटे,पत्रकार कीर्ति पांडे ,रमेश श्रीवास्तव ,विद्यालय के व्यवस्थापक रजिंदर खनूजा विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन विद्यालय की प्राचार्य श्रीमती ज्योति जोशी ने किया।विद्यालय की दीदी गायत्री राजपूत एवम छात्रों में तमन्ना राजपूत, दिपांसु ,हिमांसी युवराज एवम देवाशीष साहू विशेष योगदान रहा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Also Read