RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 1:56 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

October 7, 2022 1:56 AM

भारी वर्षा से शहडोल अमरकंटक मार्ग मे किरर घाटी क्षतिग्रस्त जी से शासन के द्वारा अब तक नहीं सुधारा जा सका ट्रैक सीजी न्यू संभाग प्रमुख महेंद्र श्रीवास्तव

You might also like

अनूपपुर जिले में 20 अगस्त की रात्रि से लगातार हो रही वर्षा की वजह से अमरकंटक मार्ग पर किरर घाट पर रिटेनिंग वॉल अति वर्षा के कारण क्षतिग्रस्त हो गया है जबकि यह पिछले वर्ष ही बन्ना बताया जा रहा है वर्षा के कारण भूस्खलन की संभावना को देखते हुए एमपीआरडीसी के तकनीकी अधिकारियों की रिपोर्ट पर घाटी में खतरा होने की संभावना जताई गई है जिसे देखते हुए अनूपपुर कलेक्टर सुश्री सोनिया मीणा ने जन हानि की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए आगामी आदेश तक घाटी पर पूर्ण प्रतिबंध किए जाने का आदेश पारित कर बैरिकेड लगाकर कड़ाई से पालन करने का आदेश निर्देश संबंधित आदेश  अधिकारिय दिए है उन्होंने अमरकंटक की ओर यात्रा करने वाले यात्रियों को वैकल्पिक मार्ग के रूप में जैतहरी होकर बिहार घाट से राजेंद्र ग्राम को जोड़ने वाले रास्ते का का उपयोग सुनिश्चित करने को कहा है परंतु यह दिलचस्प बात है कि आज तक एक छोटे से घाट को सुधारने में प्रशासन की नाकामी साफ जाहिर दिखाई पड़ रही है मध्य प्रदेश सरकार मे बैठे हुए मुखिया जिन्होंने तरह-तरह की घोषणाएं करने के बाद भी इतना छोटा सा कार्य 2 वर्षों बाद भी नहीं करा सके जबकि इस रास्ते से होकर अमरकंटक राजेंद्रग्राम के सैकड़ों वैसे गांव है जहां पर इसी रास्ते का उपयोग प्रतिदिन करते हैं यह रास्ता बंद हो जाने से लोगों का आवागमन की सुविधा पूर्ण रूप से बंद हो गई है जिससे लोगों में भारी आक्रोश है और साथ ही प्रशासन की वह सरकार की पोल भी खुल रही है की सरकार तरह-तरह के ढिंढोरा पीट-पीटकर प्रदेश की जनता को गुमराह करती है जबकि वास्तविकता सामने दिखाई पड़ रहा है की जनता की सेवा जनता के उपयोग की सुविधाओं में सरकार की कितनी नजर है इन सब को देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि जब इतना छोटा सा कार्य सरकार नहीं करा सकी तो अब कोई बड़े कार्य कैसे करा पाना इस सरकार के लिए संभव है सरकार मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह की सरकार पूर्णता नाकाम साबित हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Also Read