RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 26, 2022 11:37 PM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 26, 2022 11:37 PM

रावघाट लौह अयस्क का पहला खेप अंतागढ़ रेल्वे स्टेशन से भिलाई के लिए रवाना

अंतागढ़/ट्रैक सीजी:

अंतागढ़ क्षेत्रवासियों के सपनो की परियोजना रावघाट लौह अयस्क परियोजना का दशकों के इंतजार के बाद शुभारंभ हो ही गया, आज करीब बारह बजे मालगाड़ी अंतागढ़ के रेलवे स्टेशन के रैक प्वाइंट पर पहुंची, जिसके शुभारंभ के लिए देव माइनिंग दिल्ली के प्रतिनिधि साथ ही बीएसपी के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित हुए।

You might also like

किंतु आज क्षेत्र के लोगों में लौह अयस्क परिवहन को लेकर कोई उत्साह नजर नहीं आया, जिसका इंतजार लोगों द्वारा सालों से किया जा रहा था। क्षेत्र के लोगों का ऐसे समय में स्टेशन में नही होना कहीं न कहीं बीएसपी प्रबंधन के साथ ही प्रशासन के खिलाफ नाराजगी दिखा रही थी, अंतागढ़ निवासी राहुल गुप्ता का कहना है की जिस रावघाट परियोजना का इंतजार हमने दशकों से किया, आज जब यह परियोजना आरंभ हो चुकी है तो हमारे सपनो के टूटने जैसा अनुभव हो रहा है, राहुल का कहना है की जैसी उम्मीद थी इस परियोजना के शुरू होने के बाद क्षेत्र के लोगों को रोजगार के साथ अच्छी सड़कें बेहतर स्कूल साथ ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी, किंतु लौह अयस्क का परिवहन तो शुरू हो गया किंतु लोगों को वो सुविधाएं नहीं मिली जिसके वो हकदार हैं।

बता दें बीएसपी प्रबंधन अंतागढ़ के नयापारा में एक डिस्पेंसरी चला रहा है जिसका संचालन एक मात्र एमबीबीएस डाक्टर द्वारा किया जा रहा है, वही मद्रासीपारा में डीएवी स्कूल तो खोला गया किंतु उसमे न ही शिक्षक स्थानीय हैं और न अंतागढ़ के स्थानीय बच्चों को इस स्कूल में एडमिशन दिया जा रहा है।

बीएसपी प्रबंधन के सामाजिक दायित्व के तहत कराए जाने वाले कार्यों की बात करें तो सिर्फ प्रभावित गांवों के लोगों को स्वास्थ्य सुविधा दी जा रही है वही यदि अन्य कार्यों की बात करें तो लोगों का आरोप है ही बीएसपी प्रबंधन नारायणपुर को अधिक प्राथमिकता दे रहा है जबकि उसे लौह अयस्क का परिवहन अंतागढ़ क्षेत्र से होकर ही करना है,और रावघाट के आधे माइंस ब्लाक अंतागढ़ क्षेत्र में आते हैं।

जहां तक रेल परिचालन की बात कहें तो अंतागढ़ स्टेशन में अभी एक मात्र यात्री रेल सेवा दी जा रही है जिसमे काफी भीड़ होती है , लोगों की मांग है की जो यात्री रेल केंवटी सुबह पांच बजे आती है उसे अंतागढ़ तक चलाया जाए ताकि लोगों को आवागमन में सुविधा मिल सके, केंवटी से अंतागढ़ की दूर सिर्फ 10 मिनट की है ऐसे में रेलवे प्रबंधन व बीएसपी प्रबंधन को चाहिए की वो अंतागढ़ क्षेत्र के लोगों को सुबह वाली रेल सुविधा भी प्रदान करें।

ज्ञात हो, 13 साल पहले बीएसपी को रावघाट से लौह अयस्क खनन का कार्य मिला किंतु भिलाई स्टील प्लांट ने यह कार्य देव माइनिंग ग्रुप दिल्ली को लीज पर दे दिया।

बता दें रावघाट से अंतागढ़ रेलवे स्टेशन तक लौह अयस्क परिवहन करने के लिए टिप्परों का उपयोग किया जा रहा है, जिस सड़क से लौह अयस्क परिवहन किया जा रहा है उस सड़क के सिंगल लेन होने की वजह से उस रास्ते में निवास करने वाले गांवों के लोगों विरोध की वजह से लौह अयस्क रावघाट से नारायणपुर कोंडागांव कांकेर होते हुए अंतागढ़ परिवहन किया जा है। इस विषय में बीएसपी के माइनिंग के सीनियर इंजीनियर केके गुप्ता का कहना है की कंपनी सीएसआर व डीएमएफ मद के माध्यम से कलेक्टर के माध्यम से सरकार को दे देता है अब जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होती है की वो प्रभावित क्षेत्रों में कैसी व्यवस्था कराती है, यदि कार्य लोगों के मांग के अनुरूप नहीं हो रहा है तो लोगों को अपनी जायज मांगों को लेकर अपने प्रतिनिधियों से चर्चा करनी चाहिए ।

आज लौह अयस्क परिवहन का शुभारंभ जयप्रकाश जनरल मैनेजर कम माइंस मेनेजर,अरुण कुमार जनरल मैनेजर, सुना राम बास्की जनरल मैनेजर,कौशल किशोर गुप्ता सीनियर मैनेजर रावघाट माइंस उपस्थित थे, जबकि क्षेत्र से कोई भी जनप्रतिनिधि या गणमान्य नागरिक नजर नहीं आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.