RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 27, 2022 12:21 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

September 27, 2022 12:21 AM

आबकारी विभाग के सांठगांठ पर जैजैपुर वृत क्षेत्र में अवैध शराब की खुलेआम बिक्री

आबकारी विभाग के सांठगांठ पर जैजैपुर वृत क्षेत्र में अवैध शराब की खुलेआम बिक्री

खास बात- ढाबा संचालकों और बड़े शराब माफियाओं पर मेहरबान आबकारी विभाग

You might also like

सक्ती/ट्रैक सीजी। बड़े-बड़े शराब माफियाओं को जेल भेजने का दावा करने वाले आबकारी वृत्त प्रभारी के क्षेत्र में सरेआम अवैध शराब की बिक्री हो रही है। नतीजन कानून व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगने लगा है। अवैध शराब की बिक्री से एक और जहां गांव का माहौल बिगड़ने लगा है तो वही दूसरी ओर कल के भविष्य कहे जाने वाले युवा पीढ़ी नशे की लत के आदी होते जा रहे हैं। देर शाम से लेकर देर रात तक मुख्य मार्ग से गली मोहल्लों तक शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है जो विभिन्न अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने जरा सा भी संकोच नहीं करते जिसके चलते क्षेत्र में मारपीट, चोरी, लूटपाट, गाली गलौज, सड़क हादसे जैसी अनेकों घटनाएं तेजी से बढ़ने लगी है। ऐसा नहीं कि क्षेत्र में चल रहे इस काले कारोबार की जानकारी स्थानीय पुलिस और आबकारी अमले को नहीं है। दोनों जानकर भी धृतराष्ट्र बने बैठे हैं जो इस इस बात का संकेतक है कि क्षेत्र का सारा अवैध शराब का कारोबार स्थानीय पुलिस और आबकारी अमले के संरक्षण में ही फल फूल रहा है।
उल्लेखनीय है कि 16 सितंबर को आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने रायपुर स्थित आबकारी भवन में विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेकर आबकारी नीति का कड़ाई से पालन करवाने. शराब के अवैध भंडारण, परिवहन और विक्रय को रोकने के लिए सतत भ्रमण और निरीक्षण करते रहने विभागीय अधिकारियों को सख्त निर्देशित किया है। बावजूद इसके जैजैपुर आबकारी वृत क्षेत्र के दर्जनों गांव में कच्ची महुआ शराब की नदियां बह रही है वही बिलासपुर रायगढ़ मुख्य मार्ग पर स्थित हसौद क्षेत्र के रोड किनारे अनेकों ऐसे ढाबों और होटलों का संचालन किया जा रहा है जिसमें संचालकों द्वारा तय कीमत से दो से 3 गुना अधिक दामों में सरेआम ग्राहकों को अवैध शराब परोसी जा रही है। मजे की बात यह है कि जनचर्चाओं ने जैजैपुर वृत प्रभारी दिलीप प्रजापति पर कई गंभीर आरोप भी लगाए हैं जो छोटे शराब कोंचियों पर मनमाने तरीके से कार्रवाई कर अपनी पीठ थपथपाते हुए विभागीय उच्चाधिकारी सहित छत्तीसगढ़ शासन को गुमराह करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। जनचर्चाओं के अनुसार वृत्त प्रभारी द्वारा क्षेत्र के बड़े शराब माफियाओं से मासिक प्रसाद लेकर उन्हें संरक्षण दिया जा रहा है और उनके इस कारोबार को सकुशल बनाए रखने इन शराब माफियाओं के दिशा निर्देशन पर छोटे शराब कोंचियों पर मनमाने तरीके से कार्रवाई कर जेल दाखिल कर विभागीय उच्चाधिकारी सहित छत्तीसगढ़ शासन का ध्यान अपनी कार्यवाही की ओर आकर्षित करने में लगा है ताकि उसके काली करतूतों का खुलासा ना हो सके।

इन गाँवो मे शराब की खुलेआम बिक्री:-
जैजैपुर वृत क्षेत्र में आबकारी विभाग के संरक्षण में अवैध शराब माफिया दिन-ब-दिन हावी होते नजर आ रहे हैं वही हसौद व मल्दा सहित आसपास के इलाकों में अवैध शराब का कारोबार दिन-ब-दिन विकराल रूप धारण करता देखा जा रहा है इसके अतिरिक्त खरवानी, बेलादुला, बोडसरा, हरदीडीह, आमाकोनी, आमगांव, गुचकुलीया, गलगला, भोथिया ओड़ेकेरा, देवरघटा, गुंजीयाबोड़, जमड़ी, बरेकेलखुर्द, नरीयरा, करही सहित दर्जनों गांवो में कच्ची महुआ शराब की नदियां बह रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.