RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

November 27, 2022 1:35 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

November 27, 2022 1:35 AM

नव निहाल विद्यार्थियों और बुजुर्गजनों के लिए बना नल-जल योजना का पाईप लाइन का सप्लाई जी का जंजाल

नव निहाल विद्यार्थियों और बुजुर्गजनों के लिए बना नल-जल योजना का पाईप लाइन का सप्लाई जी का जंजाल

You might also like

ठेकेदार की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे ग्रामीण,कुटराबोड

सक्ति/ट्रैक सीजी। नवीन जिले सक्ती के जैजैपुर ब्लाक में ऐसे दर्जनों ग्राम पंचायत है जहाँ नल-जल योजनाओं के नाम पर ग्राम सड़क योजनाओं का धज्जियां उड़ाया गया है, नल जल योजनाओं के नाम पर जैजैपुर ब्लॉक के ग्राम पंचायतों का सी.सी.रोड की स्थिति चलने लायक नहीं रहा बद से बत्तर हो गया है बोड़सरा,बहात्माहुल,कुटराबोड, हरेठीकला, सहित अनेकों ग्राम पंचायत सामिल है जो नल जल योजना का लाभ मिला है

छत्तीसगढ़ के मुखिया भूपेश बघेल के द्वारा विशेष पहल कर घर-घर शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए जल जीवन मिशन का शुरुआत किया है करोड़ो रुपये की लागत से योजना का लाभः दिलाने के लिए एवं राज्य में घर-घर तक योजना का लाभ पहुंचाने और योजना को सफल बनाने के लिए प्रशासन व सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किया जा रहा है लेकिन नल-जल योजना के नाम पर बदहाली का आलम देखने को मिल रहा है, देश के आजादी के बाद जिले में आज भी ऐसे ग्राम पंचायत है जहाँ के नागरिक व ग्रामीण पक्की सड़क के लिए तरस रहे है व तरस-तरह के उपाय आजमाते रहते है गांव की बदहाल व जर्जर सड़कों की अवस्था को सुधरवाने के लिए ग्रामीणों के द्वारा चक्काजाम, आंदोलन कर विभिन्न प्रयास उनके लिए आम बात हो जाती है,जो अपने गली मोहल्ले को आवागमन के लिए बनवाने के लिए, वही जिले में देखने को मिल रहा है कि नल-जल योजनाओं के नाम पर ठेकेदारों के मनमानियों के कारण प्रत्येक ग्राम पंचायतों में पानी टंकी की पाइपलाइन बिछाने के नाम पर ग्राम पंचायतों की सड़कों को भरस्टाचार की भेंट चढ़ा कर अपनी जेब भर ग्रामीणों को बदहाल अवस्थाओं में छोड़ कार्य अधूरा मदमस्त हो चुके है, जिस काम को श्रमिक योजनाओं के द्वारा कराया जाना था बेरोजगार व्यक्तियों को रोजगार दिलाकर उसे मिलिभगत कर जे.सी.बी (चयन बुलेटिन) मशीन द्वारा करवा कर ठेकेदार अपनी जेब भर निद्रा में है, ग्रामीणों का आरोप है कि नल-जल योजना के तहत गांव में पानी टंकी का पाईप लाइन सप्लाई का काम हुए 3 से 4 माह गुजर चुका है इसके बाउजूद जिस सड़क को तोड़ कर सप्लाई किया गया है उसके मरमत के लिए ठेकेदार को अनेकों बार ग्रामीण व जिम्मदारों के माध्यम से जर्जर स्थिति को पुनः आवागमन बनाने लिए अवगत कराया जा चुका है, लेकिन ठेकेदार की द्वारा किसी प्रकार कोई प्रतिक्रिया नहीं दिखी।

निर्माण कार्य में हो रही परेशानियों के कारण ग्रामीण परेशान,ठेकेदार द्वारा राशि ना होने व बरसात होंने के कारण कुछ हफ्ते इन्तेजार करने का हवाला देते हुए ग्रामीणों को बदहाली और रोजमर्रे से परेसान अवस्था मे छोड़ मदमस्त हो गए है जिसकी जानकारी अनेको बार जिम्मेदार विभगीय अधिकारियों को मौखिक रूप से दिया जा चुका है, गांव का मुख्य मार्ग होने के वजह से ग्रामीणों की रोजमर्रे की जीवन हो गईं है अस्तव्यस्त, बुजुर्ग- विद्यालयन बच्चों के लिए भारी परेशानियों की वजह बन चुकी है।

जानकारी के अनुसार पानी टंकी पाइपलाइन सप्लाई का कार्य ग्राम सड़क योजन(सी.सी.रोड) के बीचों-बीचों को तोड़ कर पाइप लाइन इलेक्ट्रॉनिक मशीन(जे.सी.बी) द्वारा लगाया गया। ठेकेदारों व जिम्मदारों के मदमस्तियों का खामियाजा आज ग्रामीणों को भूगतने को मजबूर।

जैजैपुर ब्लाक में ऐसे दर्जनों ग्राम पंचायत है जहाँ नल-जल योजनाओं के नाम पर ग्राम सड़क योजनाओं का धज्जियां उड़ाया गया है, नल जल योजनाओं के नाम पर जैजैपुर ब्लॉक के ग्राम पंचायतों का सी.सी.रोडों का स्थिति चलने लायक नहीं रहा है, बोड़सरा,बहात्माहुल,कुटराबोड, हरेठीकला, सहित अनेकों ग्राम पंचायत सामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Also Read