RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

December 8, 2022 4:40 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

December 8, 2022 4:40 AM

विधायक अनूप नाग ने ग्रामीण छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेल का किया शुभारंभ

⭕ *विधायक नाग ने गिल्ली डंडा खेलकर किया खेल कार्यक्रम का शुभारंभ*

⭕ *विधायक नाग ने विलुप्त होती छत्तीसगढ़ी खेलो को मंच प्रदान करने के लिए सीएम बघेल के निर्णय को सराहा*

You might also like

अंतागढ़/ट्रैक सीजी:
विधायक अनूप नाग ने आज अंतागढ़ के उन्मुक्त खेल मैदान में ग्रामीण छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आज शुभारंभ किया। बता दें कि प्रदेश में 6 अक्टूबर से 6 जनवरी 2023 तक राज्य में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आयोजन किया जाएगा। इसमें दलीय एवं एकल श्रेणी में 14 तरह के पारम्पिक खेल शामिल किया गए हैं। गिल्ली डंडा, पिट्टूल, लंगड़ी दौड़, बांटी (कंचा), बिल्लस, फुगड़ी, गेड़ी दौड़, भंवरा की प्रतियोगिता आयोजित होगी।

विधायक अनूप नाग ने ओलंपिक खेल के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विजन के अनुरूप छत्तीसगढ़ में पारम्परिक खेल गतिविधियों को ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में प्रोत्साहित करने के लिए पहल की गई है। छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक से प्रतिभागियों को एक ओर जहां मंच मिलेगा। वहीं उनमें खेलों के प्रति जागरूकता बढ़ेगी और खेल भावना का विकास होगा। छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक के आयोजन को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग एवं नगरीय क्षेत्रों में नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग को नोडल विभाग बनाया गया है।

*छत्तीसगढ़ की संस्कृति और सभ्यता को सजोने का काम कर रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल :- विधायक नाग*

विधायक अनूप नाग ने अपने उद्बोधन में आगे कहा की छत्तीसगढ़ की संस्कृति और सभ्यता को सजोने का काम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार निरंतर कर रही हैं कभी बोरे बासी खाकर तो कभी तीजा पोरा त्यौहार मना कर और अब छत्तीसगढ़ की पारंपरिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़ीया ओलंपिक का आयोजन कर के ।

*बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक ले सकेंगे खेलो में हिस्सा*

विधायक नाग ने कहा इसमें बच्चे से लेकर बुजुर्ग हिस्सा ले सकेंगे यह खेल ग्राम स्तरीय के पश्चात जोन स्तर, जोन स्तर के पश्चात ब्लॉक, ब्लॉक के बाद जिला, जिला के पश्चात संभाग और संभाग के बाद फिर राजधानी रायपुर में महामुकाबला होगा। अंतागढ़ में आयोजित इस खेल प्रतियोगिता में विधायक अनूप नाग के द्वारा सरस्वती माता के छाया चित्र पर पूजा अर्चना के पश्चात गिल्ली डंडा खेलकर कार्यक्रम की शुभारंभ की गई, राजीव मितान क्लब के सदस्यों को आयोजन को लेकर बधाई देते हुए विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा जो पहल की गई है।

वह काफी है सराहनीय है कि छत्तीसगढ़ की खेल और परंपरा विलुप्त होती जा रही थी उसे बढ़ावा देने का काम हमारी सरकार कर रही है, साथ ही कहा कि जो खेल विलुप्त होते जा रही थी, हम भूलते जा रहे थे उसे सजोनें का काम सरकार कर रही है चाहे बात बाटी से कबड्डी की हो भवरे से लंगडीदौड़, खो-खो, कबड्डी सहित कुल 14 खेलों का आयोजन करा रही है और एक नया आयाम देते हुए छत्तीसगढ़ ओलंपिक का नाम दिया हुआ है यह प्रतियोगिता ग्रामीण स्तर से से प्रदेश स्तर तक पहुंचेगी और वहां पहुंचने के बाद खिलाड़ियों को एक नई पहचान मिलेगी।

*गांव के क्लब से लेकर राज्य तक छह स्तरों पर होंगे आयोजन :- नाग*

विधायक अनूप नाग ने कहा की छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक में छह स्तर निर्धारित किए गए हैं। इन स्तरों के अनुसार ही खेल प्रतियोगिता के चरण होंगे। इसमें गांव में सबसे पहला स्तर राजीव युवा मितान क्लब का होगा। वहीं दूसरा स्तर जोन है, जिसमें 8 राजीव युवा मितान क्लब को मिलाकर एक क्लब होगा। फिर विकासखंड/नगरीय क्लस्टर स्तर, जिला, संभाग और अंतिम में राज्य स्तर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Also Read