RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

December 8, 2022 4:02 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

December 8, 2022 4:02 AM

संवेदनशीलता से करें वन्य प्राणियों के अपराधों की विवेचना:- विसेन- टैक सी जी न्‍यूज संभाग प्रमुख महेन्‍द्र श्रीवास्‍तव

संवेदनशीलता से करें वन्य प्राणियों के अपराधों की विवेचना:- विसेन- महेन्‍द्र श्रीवास्‍तव

किरर में वन कानून एवं प्रक्रिया पर एक दिवसीय वार्षिक कार्यशाला संपन्न
अनूपपुर/14/11/2022/रविवार को वन चौकी किरर में वन मंडल अनूपपुर स्तरीय वन कानून एवं प्रक्रिया पर वार्षिक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसने वन मंडल के सभी अधिकारी कर्मचारी सम्मिलित रहे हैं ।
इस दौरान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री रत्नेश चंद्र विसेन में अपने संबोधन में कहा कि वन अधिकारियों को वन,वन्य प्राणियों से संबंधित अपराधों की विवेचना, तकनीकी जानकारियों साक्ष्यों के साथ गंभीरता से लेते हुए संवेदनशीलता से कार्यवाही कर समय पर न्यायालय में प्रस्तुत किया जाना चाहिये जिससे न्यायालय अपनी सुनवाई के दौरान प्रकरण में सम्मिलित तकनीकी जानकारी के साथ साक्षियो,साक्ष्य,जप्ती तथा अन्य तरह की महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ प्रकरण न्यायालयों में प्रस्तुत किया जाना चाहिए जिससे सुनवाई पर अपराधियों को सजा मिल सके,उन्होंने कहा कि कुछ छोटी-छोटी गलतियों के कारण अपराधियों को प्रकरणों में कार्यवाही दौरान छूट जाने का मौका मिल जाता है जिससे वन अपराधों में सजाएं नहीं हो पा रही है ।
इस दौरानवन मंडल अधिकारी अनूपपुर डां, ए,ए,अंसारी ने कहा कि वन,वन्य प्राणियों,अतिक्रमण,अवैध खनिज खनन,परिवहन जैसे अपराधों में विवेचकों को प्रकरणों की जानकारी संग्रहित कर गवाहों के कथन के साथ प्रकरणों की डायरी को देखना चाहिए तथा किसी भी तरह की गलती ना हो इस हेतु समय-समय पर वन विधि एवं नए नए निर्देशों का अवलोकन करना चाहिए,जितनी मजबूती व सक्रियता से अपराधों की विवेचना होगी तथा न्यायालय में सुनवाई के दौरान प्रस्तुत किया जाएगा उससे अपराधों में संलिप्त अपराधियों को सजा मिल सकेगी।
कार्यक्रम के दौरान अपर जिला सत्र न्यायाधीश श्री आर,पी, रेवतिया ने कहा कि वन परिक्षेत्र स्तर के राजपत्रित अधिकारी गंभीर अपराधों की विवेचना करते हुए तकनीकी तथा वैज्ञानिक तरीके से परीक्षण कर समय पर न्यायालय में डायरी प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। कार्यशाला दौरान मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी श्री महेंद्र कुमार उईके एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अनूपपुर के सचिव श्री विवेक कुमार शुक्ला ने वन अधिकारियों को वन एवं वन्य प्राणियों के अपराधों की विवेचना के संबंध में किए जाने वाली कार्यवाही की तकनीकी जानकारी प्रदाय करते हुए जप्ती,गवाहो के कथन वैज्ञानिक परीक्षण अवशेषों का एफ,एस,एल,परीक्षण तथा अपराधियों को अपना पक्ष रखने का मौका दिए जाने से सम्बधित विस्तृत जानकारी प्रदाय की ।
इस दौरान जिला विधिक सेवा अधिकारी दिलावर सिंह ने जिला जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा प्रदाय की जाने वाली विधिक सेवा की जानकारी प्रदाय की,कार्यक्रम में उप वन मंडल अधिकारी अनूपपुर के,वी,सिंह प्रशिक्षु आईएफएस एवं प्रभारी वन परिक्षेत्र अधिकारी अनूपपुर विवेक सिंह ने वन तथा वन प्राणियों के साथ अन्य तरह के वन अपराधों की सूक्ष्मता से जांच करते समय सतर्कता बरतने की बात कही,वन परीक्षेत्र अधिकारी कोतमा विकास सेठ ने अतिथियों का स्वागत किया तथा वन परीक्षेत्र अधिकारी बिजुरी सुश्री जीतू सिंह बघेल द्वारा कार्यशाला दौरान वन तथा वन्य प्राणियों के साथ अन्य तरह के वन अपराधों की विवेचना में तकनीकी जानकारी दिए जाने से भविष्य में विवेचना दौरान सहयोग प्राप्त होने से अपराधियों को न्यायालय से सजा दिलाने में सहायक होने की बात कही ।
कार्यशाला के आयोजन पर परिक्षेत्र सहायक किरर रिचर्ड रेगी राव,परिक्षेत्र सहायक अनूपपुर संतोष कुमार श्रीवास्तव,वनरक्षक किरर हरिशंकर महरा के साथ अनूपपुर वन मंडल के वन परीक्षेत्र अधिकारी,परिक्षेत्र सहायक एवं वनरक्षक प्रमुख रूप से सम्मिलित रहे हैं

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Also Read