RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

November 27, 2022 1:20 AM

RNI - NO : CHHHIN/2015/65786

November 27, 2022 1:20 AM

ग्राम पंचायत आमागांव क्षेत्र के ग्रामीणों ने की अंतागढ़ को जिला बनाए जाने की मांग, सौंपा ज्ञापन

अंतागढ/ट्रैक सीजी:

विकासखंड अंतागढ अंतर्गत ग्राम पंचायत आमागांव क्षेत्र के ग्रामीणो ने नये जिले के मामले मे भानुप्रतापुर से की जा रही जिले की मांग पर विरोध दर्ज कराते हुए अतिरिक्त कलेक्टर अंतागढ को मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के नाम आज एक ज्ञापन पत्र सौपकर अंतागढ को जिला बनाने की मांग प्रमुखता से की है।

You might also like

ज्ञापन सौंपते ग्रामीण

ग्रामीणो ने कहा की राज्य सरकार अंतागढ को जिला घोषित कर क्षेत्र की जनभावनाओ का सम्मान करे हम अंतागढ आमाबेडा कोयलीबेडा रावघाट सहित संपूर्ण क्षेत्रवासी जिले की मांग को लेकर वर्षों से मांग कर रहे है भानुप्रतापुर को काकेर जिले मे ही रहने दिया जाऐ क्युकी काकेर जिले और भानुप्रतापुर की दूरी कोई खास नही है जबकी अंतागढ क्षेत्र के सुदूर वनांचलो मे बसे सैकडो गांव काकेर जिले की दूरी को लेकर लंबे समय से प्रशासन के समक्ष आक्रोश प्रकट करते हुए अंतागढ को जिला बनाए जाने की मांग कर रहे है।

गजानंद जैन का कहना है कि कि हम बीते 15 वर्षों से अंतागढ़ को जिला बनाने की मांग कर रहे हैं क्योंकि हमारा यह एक पिछड़ा हुआ क्षेत्र है और जिस प्रकार से क्षेत्र को विकसित होना था वह नहीं हो पाया है जिसका मुख्य कारण है कि क्षेत्र को हमेशा ही उपेक्षित किया गया है और यह सिलसिला आज भी जारी है इसी के चलते क्षेत्रवासियों द्वारा अंतागढ़ को जिला बनाने की मांग की जा रही है जिससे क्षेत्र के लोगों को जिला स्तर की सुविधाएं अपने ही क्षेत्र में मिले और यह पिछड़ा क्षेत्र चौमुखी विकास करें वही कहा है कि कुछ अवसरवादी लोग अभी अन्य भानूप्रतापपुर को जिला बनाने की मांग कर रहे हैं जिसका हम पुरजोर विरोध करते हैं।

गजानंद जैन

कुंवर सिंह का कहना है कि आज छत्तीसगढ की ब्रिटिश कालिन तहसीले जिले का दर्जा पा चुकी है परन्तु अंतागढ आज तक जिले का दर्जा न पा सका,अंतागढ क्षेत्र आज भी पिछड़ा हुआ है। जिला बनने से अंतागढ के विकास को गति मिल जाऐगी अंतागढ के सुदुर अंचल से जिला मुख्यालय कांकेर की दूरी 150 किलोमीटर है इस दूरी की वजह से कोलर क्षेत्र के लोग काकेर जिले से अलग होकर नारायणपुर जिले मे शामिल होने की मांग कर रहे है उन्होने इस माग को लेकर रायपुर तक पूवॅ मे पदयात्रा भी की है अंतागढ जिला बनने से उनकी दूरी को लेकर रही यह समस्या भी सवत: समाप्त हो जाऐगी अंतागढ जिला बनने से दूरी 30 -40 किलोमीटर के बिच सीमा जाऐगी अंतागढ मे खनीज एवं वन संपदा का भंडार है जिससे जिले का संचालन बेहतर ढंग से किया जा सकता है।

कुंवर सिंह

आमागांव क्षेत्रवासीयो ने ज्ञापन के माध्यम से अंतागढ मे अतिरिक्त कलेक्टर तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक की पदस्थापन करने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल का आभार व्यक्त किया है, वही भुपेश बघेल से अंतागढ क्षेत्रवासीयो को कांकेर जिले के नाम पर दूरी को लेकर होने वाली समस्याओ तकलीफो को देखते हुए जनहित मे अंतागढ को जिला बनाए जाने पर शीघ्र विचार करने की बात कही है इस अवसर कुंवर सिह, गजानंद जैन, घनश्याम, धनेश्वर, चुनेंद्र, अर्जुन विश्राम, फागुराम, प्रवीणचंद, बीरसिह, भुनेश्वर, प्रभु राम, रूपेश राजपाल रूपनीराम आदि उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Also Read